गज़ल

गज़ल/hot-posts

Slider Widget

5/recent/slider

Recent posts

View all
फिजाँ का रंग गहरा हो गया है
मुहब्बत में कई बातें ज़रूरी हैं मगर
इक दर्द था जो दिल को लुभाता ही रह गया
हाथ में ख़ून लगा खंज़र है
वही दुनिया को सम्हाले हुये हैं
सुनो तुम ए ! सुनो नादान लड़की !
तूं मेरे जीने का सबब है